शहर बनारस
Trending

नागरिक सुरक्षा वाराणसी के उप नियंत्रक नीरज मिश्रा ने प्रमुख सचिव का नाम लेकर 50000 रुपये डिविजनल वार्डेन रामाश्रय प्रसाद कुशवाहा से की मांग

डिविजनल वार्डेन ने कहा 22 साल सेवा में आज तक पैसा किसी ने नहीं माँगा, ज्यादा जानकारी हेतु देखें यह पूरा पोस्ट,

रिपोर्ट संजय कुमार प्रजापति

वाराणसी

 

नागरिक सुरक्षा वाराणसी को जहा सेवाभाव के लिया जाना जाता है वही आज कुछ मामूली रुपयों के लिए इस विभाग को कुछ अधिकारी बदनाम कर रहे है जिसका खुलासा हुआ इस वाक़्या से रामाश्रय प्रसाद कुशवाहा कोनिया वाराणसी का निवासी है जो विगत 22 वर्षों से ज्यादा नागरिक सुरक्षा विभाग में अवैतनिक आई सी ओ व डिविजनल वार्डन के पद पर कार्यरत है


रामाश्रय जी के अनुसार 30 दिसंबर 2019 को उनका रिन्यूअल समाप्त हो रहा था नियमानुसार रिन्यूअल समाप्ति के 6 माह पूर्व ही अपना आवेदन व स्वास्थ्य परीक्षण मंडली चिकित्सालय वाराणसी से कराकर प्रस्तुत किया था और उनमें एल आई यू व पुलिस वेरिफिकेशन करा कर दिया गया था,
दिनांक 30 दिसंबर 2019 को रिन्यूअल समाप्ति के बाद भी रामाश्रय जी से विभाग द्वारा कार्य भी लिया जा रहा है,
इसी बीच उप नियंत्रक नीरज मिश्रा द्वारा मुझे कार्यालय में बुलाकर कहा गया कि आपका डिविजनल वार्डन पद रिन्यूअल करना प्रस्तावित है तो ₹50000 सुविधा शुल्क लगेगा यह सुविधा शुल्क प्रमुख सचिव माननीय राजन शुक्ला जी को देना है उनकी सगी बुआ वाराणसी नगर के दुर्गाकुंड क्षेत्र में रहती हैं उनकी सेवा के लिए दवा खाना खर्चा के लिए महीना शुल्क देना होगा,
रामाश्रय जी ने कहा 22 साल से नागरिक सुरक्षा में निष्काम सेवा देता आ रहा हूं आपके पहले तो कोई अधिकारी मुझसे कभी भी किसी तरह का पैसा की मांग नहीं किया है तो उन्होंने कहा कि कराना है तो पैसा देना होगा मैं यहां आने से पहले मुगलसराय में था ₹100000 प्रमुख सचिव महोदय को देकर यहां आया हूं इसलिए मैं अपना वसूली कर रहा हूं और प्रमुख सचिव के दबाव में उनके रिश्तेदार की सेवा करनी पड़ती है इस सेवा में सभी कर्मचारियों को भी सुविधा शुल्क देना पड़ता है यह लोग भी घूम फिर कर वाराणसी में रहते हैं कुछ महीनों के लिए ट्रांसफर दूसरे जिलों में होता है फिर सोच लगाकर वाराणसी में पोस्टिंग करा लेते हैं इनकी वसूली का कार्य संजय राय कार खास के द्वारा की जाती है दिनांक 22 मई 2020 को विभागीय वरिष्ठ वार्डन की बैठक की कार्यवाही का भी जिक्र किया गया, इनके कारखास के कार्य प्रणाली से वार्डन कितना नाराज है,
डिविशनल वार्डन रामाश्रय जी ने उप नियंत्रक नीरज मिश्रा के इस कृत्य को सूबे के मुख्यमंत्री, प्रमुख सचिव राजन शुक्ला, पुलिस महानिरीक्षक और जिलाधिकारी को जिलाधिकारी को अवगत कराया

 

 

 

अगर पोस्ट अच्छा लगा तो ज्यादा से ज्यादा लोगों को शेयर भी करें और हमारे व्हाट्सएप ग्रुप और टेलीग्राम ग्रुप को ज्वाइन करें फेसबुक पेज को भी फॉलो करें ,

https://chat.whatsapp.com/GYrLR6bu5Oz72wV4lzoLAF

https://t.me/joinchat/JuFjjxsHt2T8oc7MzS3Edw

https://www.facebook.com/Up65-web-media-solution-private-limited-103852271295986

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button